Khelorajasthan

पहले झटके मे UPSC की परीक्षा क्लियर कर बनी IAS अफसर! पढ़ें पूरी कहानी

 
ias success story: 

ias success story: हरियाणा के कुरूक्षेत्र से जुड़े हुए हैं। वह इंजीनियरिंग उद्योग में काम करना चाहती थी और इसी प्लांट के बाद उन्होंने सामीलाई की परीक्षा दी। इसके बाद उन्होंने कानपुर से पढ़ाई की, इसी दौरान उनका रूझान यूपीएससी की ओर बढ़ा और उन्होंने तैयारी का निर्णय लिया।

तेजस्वी ने 2015 में पहली बार यूपीएससी परीक्षा दी और प्रीलिम्स तो पास कर लिया, लेकिन मेन्स में फेल हो गए। उन्होंने अपने दूसरे प्रयास में सफलता का स्वाद चखा।

तेजस्वी ने पहले यूपीएससी पाठ्यक्रम का अच्छी तरह से अध्ययन किया और फिर से कक्षा 6 से 12 तक की एनसीई आरटीओ की कोटा एक साथ क्लियर करने के लिए पाठ्यक्रम तैयार किया। उन्होंने इन शैलियाँ को खूब पढ़ा और अपना आधार मजबूत किया। इसके बाद उन्होंने वैकल्पिक विषयों का चयन बहुत सोच-समझकर और मानक पुस्तकें लीं।

उन्होंने एक बेहतर योजना बनाई और हर दिन धीरे-धीरे संभव हो सके अध्ययन किया और छोटे नोट्स बनाए। बीच-बीच में उन्होंने मॉक टेस्ट जहाज़ की तैयारी का विश्लेषण और उत्तर-सहायक का अभ्यास भी किया। उनकी रणनीति काम कर गयी और उन्हें सफलता मिल गयी।

तेजस्वी का कहना है कि यूपीएससी में सफलता पाने के लिए आपको लगन और मेहनत करनी होगी। बैटरी को बेहतर संसाधनों से सही दिशा में तैयारी करनी चाहिए और समय-समय पर अपनी तैयारी का विश्लेषण भी करना चाहिए।

इससे आपको अपनी सही स्थिति का पता चल जाएगा और उसके अनुसार बेहतर तरीके से सुधार का प्रयास किया जा सकेगा। तेजस्वी का कहना है कि असफलता से डरना नहीं चाहिए और साहस के साथ प्रयास करना चाहिए. प्रोफेसर अधिकारी तेजस्वी राणा की शादी एफआईएल अधिकारी अभिषेक गुप्ता से हुई है।